Topics



करंट अफेयर्स : रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने पेश किया 2016-17

रेलवे बजट 2016-17

हाइलाइट
1 यात्री किराए में कोई बढ़ोतरी नहीं की गई।
2. पिछले साल की गई 139 बजट घोषणाओं पर कार्रवाई की गई।
3. 2020 तक सभी मानवरहित समपारों को हटा दिया जायेगा।
4. स्वच्छ भारत: इस वित्तीय वर्ष की समाप्ति से पहले 475 स्टेशनों में 17000 जैव शौचालय और अतिरिक्त शौचालय की वयवस्था की जाएगी।
5. इस साल वरिष्ठ नागरिकों और महिला यात्रियों के कोटे में वृद्धि की गई है।
6. इस साल 100 स्टेशनों और अगले साल के 400 स्टेशनों पर वाईफ़ाई।
7.ई-टिकटिंग प्रणाली की क्षमता 2,000 टिकट / मिनट से बड़ कर 7,200 / मिनट।अब एक साथ 1.2 लाख उपयोगकर्ता इसका इस्तेमाल कर सकेंगे ,पिछली क्षमता 40,000 थी।
8. सभी प्रमुख स्टेशनों में चरणबद्ध तरीके से सीसीटीवी निगरानी के तहत लाया जायेगा ।
9. अनारक्षित यात्रियों के लिए लंबी दूरी की ट्रेनों के लिए दीन दयाल कोचे । इन डिब्बों में पीने योग्य पानी और मोबाइल चार्ज पोइंट अधिक संख्या में शामिल होंगे।
10 आईआरसीटीसी (IRCTC) चरणबद्ध तरीके से खानपान सेवा का प्रबंधन करेगी । स्थानीय भोजन यात्रियों को उपलब्ध कराया जाएगा।
11. एसएमएस के माध्यम से अनुरोध द्वारा शौचालयों की सफाई।
12. शिशु आहार, babies boards माताओं के लिए उपलब्ध कराई जाएगी।
13. आगामी स्टेशनों दिखाने के लिए डिब्बों में जीपीएस आधारित डिजिटल प्रदर्शन।
14. 139 हेल्पलाइन नंबर के माध्यम से रद्द करने की सुविधा खुल जाएगा।
15. बिना टिकट यात्रा के खतरे से निपटने के लिए पायलट आधार पर बार कोड टिकट की व्यवस्था।

नई परियोजनाएं जिन्हे इस साल लागू किया जाना है:

1. ओवरनाइट डबल डेकर ट्रेनों व्यापार यात्रा मार्गों पर पेश किया जा सकेगा ।
2. 1,600 किलोमीटर विद्युतीकरण के इस साल के लिए  और अगले साल के लिए 2,000 किलोमीटर का प्रस्ताव रखा गया ।
3. ब्रॉड गेज असम में लुमडिंग-सिलचर अनुभाग(Broad Gauge Lumding-Silchar section), देश के बाकी हिस्सों के साथ बराक घाटी से जोड़ा जायेगा।
4. उत्तर-पूर्व भारत, खासकर मिजोरम और मणिपुर, जल्द ही ब्रॉडगेज के माध्यम से जोड़ा जाएगा।
5. अहमदाबाद-मुंबई हाई स्पीड कॉरिडोर के लिए स्पेशल पर्पज व्हीकल इस महीने दर्ज की गई।

रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने पेश किया 2016-17

-रेल किराये में इस बार बढ़ोतरी नहीं हुई।

-चार नई कैटेगरी के ट्रेनों की घोषणा।  

-हर श्रेणी के कोच में महिलाओं को 30 फीसदी आरक्षण।

-2020 तक 95 फीसदी ट्रेनें समय पर चलेंगी।

-ट्रेन के हर कोच में जीपीएस सिस्‍टम लगेंगे।

-अहमदाबाद-मुंबई हाई स्‍पीड ट्रेन चलेगी।

-2020 तक लोगों को जब चाहे तब टिकट मिलेगी।

-डबल डेकर उदय एक्‍सप्रेस की शुरुआत होगी। 

- मांगा आधारित रेल डिब्बों की सफाई की व्यवस्था पेश होगी, अशक्त लोगों के लिए इस वर्ष 11 ए श्रेणी के स्टेशनों पर विशेष शौचालय बनाये जायेंगे।

- रेलवे के आरक्षण कोटे में महिलाओं को 30 प्रतिशत आरक्षण दिया जाएगा।

- ट्रेनों में पायलट आधार पर बच्चों के खाने की अलग से व्यवस्था पेश होगी।

- रेलवे वरिष्ठ नागरिकों के लिए निचली सीट का कोटा बढ़ाकर 50 प्रतिशत करेगी: प्रभु।

- रेलवे बोर्ड का पुनर्गठन किया जाएगा।

- लाजिस्टिक और वेयरहाउस पार्क का विकास सार्वजनिक निजी साझेदारी के आधार पर होगा।

- भारत के पहले रेलवे आटो केंद्र का चेन्नई में जल्द ही उद्घाटन किया जाएगा।

- मुम्बई में दो एलिवेटेड उपनगरीय रेलवे कारिडोर चर्चगेट-विरार और सीएसटी-पणवेल का निर्माण किया जाएगा।

-अजमेर, अमृतसर, गया, मथुरा, नांदेड, नासिक, पुरी, तिरुपति, वाराणसी, नागपत्तनम और अन्य पर्यटन स्थलों का सौंदर्यीकरण किया जाएगा।

-रेलवे वरिष्ठ नागरिकों के लिए निचली सीट का कोटा बढ़ाकर 50 प्रतिशत करेगी : प्रभु।

-ट्रेनों में पायलट आधार पर बच्चों के खाने की अलग से व्यवस्था पेश होगी।

- अजमेर, अमृतसर, गया, मथुरा, नांदेड, नासिक, पुरी, तिरूपति, वाराणसी, नागपत्तनम और अन्य पर्यटन स्थलों का सौंदर्यीकरण किया जायेगा।

- ट्रेन में सफर के दौरान यात्रियों के बीमा की सुविधा होगी।

- ट्रेनों में दिव्‍यांगों के लिए अलग से टॉयलेट बनाए जाएंगे।

- लंबी दूरी की ट्रेनों में अतिरिक्‍त डिब्‍बे लगेंगे।

- दिल्‍ली में 21 नए स्‍टेशन बनाए जाएंगे।

- कुछ ट्रेनों में मनोरंजन के लिए एफएम की सुविधा दी जाएगी।

- हमसफर एक्‍सप्रेस पूरी तरह थर्ड एसी होगी।

-रेलवे के दो एप्‍प के जरिये टिकट बुक या कैंसिल होगी।

- अहमदाबाद से मुंबई हाई स्‍पीड ट्रेन चलेगी।

- 2020 तक ट्रेनों में जब चाहें तब टिकट मिलेंगी।

-अब कुलियों को सहायक कहा जाएगा, ट्रेनिंग भी मिलेंगी।   

-रात्रिकालीन चलने वाली डबल डेकर उदय एक्सप्रेस ट्रेन को व्यस्त मार्गो पर चलाया जायेगा। इन ट्रेनों में सामान्य ट्रेनों से 40 प्रतिशत अधिक यात्री सफर कर सकते हैं : रेल मंत्री।

-रेलवे में सभी पदों के लिए ऑनलाइन भर्ती होगी

- पांच साल में रेलवे प्रोजेक्‍टों पर साढ़े आठ लाख करोड़ रुपये खर्च होंगे

- रेलवे 40 नई परियोजना शुरू करेगी

- शताब्‍दी, राजधानी एक्‍सप्रेस में डिब्‍बे बेहतर किए जाएंगे

- नए एसी कोचों की संख्‍या बढ़ाई जाएगी

- वित्त वर्ष 2016-17 के लिए इस साल हमारा निवेश 1.21 लाख करोड़ रुपये रहेगा।

-अगले साल 2,800 किलोमीटर नए ट्रैक का परिचालन शुरू करेंगे।

- मंत्री ने कहा कि 400 स्टेशनों का सार्वजनिक निजी भागीदारी के जरिए आधुनिकीकरण किया जाएगा।

- प्रभु ने कहा कि 400 रेलवे स्टेशनों को वाय-फाय युक्त बनाया जाएगा, इस साल 100 स्टेशनों पर यह सुविधा होगी।

- 124 सांसदों ने सांसद निधि से यात्री सुविधाओं के विकास में योगदान करने की प्रतिबद्धता व्यक्त की : प्रभु ।

- रेल पुलों के निर्माण के लिए 17 राज्यों ने भारतीय रेलवे के साथ संयुक्त उद्यम बनाने पर सहमति व्यक्त की : रेल मंत्री ।

- रेल मंत्री ने कहा कि यात्रियों के किराये में सब्सिडी के चलते रेलवे को 30 हजार करोड़ रूपये का नुकसान ।

- रेलवे वित्त वर्ष 2017-18 में नौ करोड़ और वित्त वर्ष 2018.19 में 14 करोड़ मानव दिवस सृजित करेगा : प्रभु ।

- रेलवे को सरकार से 40,000 करोड़ रपए का बजटीय समर्थन मिलेगा।

- रेलवे विद्युतीकरण पर खर्च में 50 प्रतिशत वृद्धि, अगले वित्त वर्ष में 2000 किलोमीटर रेल मार्ग का विद्यतीकरण किया जायेगा : सुरेश प्रभु ।

- अगले साल 2,800 किलोमीटर नए ट्रैक का परिचालन शुरू करेंगे।.

- हमने बड़े पैमान पर लंबित पड़े पुराने कार्यो को पूरा करने और भविष्य की जरूरतों को ध्यान में रखते हुए पूंजी व्यय को मजबूत बनाया है और पूंजी व्यय की दर बढायी है : रेल मंत्री ।

- वित्त वर्ष 2016-17 के लिए इस साल हमारा निवेश 1.21 लाख करोड़ रपए रहेगा।

- वित्त वर्ष 2015-16 के बजट में बिजली समेत ईधन लागत में 8,720 करोड़ रूपये की बचत : प्रभु ।

- हमें उम्मीद है कि परिचालन अनुपात वर्तमान वर्ष के 90 प्रतिशक की तुलना में 92 प्रतिशत होगा : प्रभु ।

- तीन सीधी और पूर्णत: वातानुकूलित ‘हमसफर’ रेल गाड़िया 130 किलोमीटर प्रति घंटे के रफ्तार से चलेंगी।

-कुछ चुनिंदा स्टेशनों पर पायलट आधार पर बार कोड वाले टिकट की शुरुआत होगी।

-पत्रकारों के लिए रियायती दर पर टिकटों की ई-बुकिंग पेश की गई।

- शुल्क राजस्व के अतिरिक्त राजस्व के नये स्रोतों का दोहन करेंगे : रेल मंत्री ।

- मुख्य उद्देश्य रेल को आर्थिक वृद्धि का इंजन बनाना, रोजगार पैदा करना और उपभोक्ताओं को बेहतर सुविधाएं देना है : सुरेश प्रभु ।

- रेल मंत्री ने कहा कि ये चुनौतियों का समय और सबसे कठिन दौर है जिसका हम सामना कर रहे हैं।

-वित्त वर्ष 2016-17 में रेलवे पूरी तरह से कागज मुक्त अनुबंध व्यवस्था को अपना लेगा : प्रभु ।

- पिछले वर्षों की तुलना में रेलवे का इस वर्ष का सुरक्षा रिकार्ड बेहतर लेकिन अभी भी बहुत कुछ करने की जरूरत है : रेल मंत्री ।

- रेल मंत्री सुरेश प्रभु ने लोकसभा में 2016-17 के रेल बजट के प्रस्तावों को पेश किया।

Comments: Facebook

Comments: Google+

Comments: DISQUS

MOBILE TEST by GOOGLE launch VALIDATE AMP launch